काव्यशाला पृष्ठ 11 | मातृभाषा - माँ भारती का श्रृंगार | Hindi Poems

कालजयी कविताएँ

हिंदी साहित्य की कालजयी कविताओं का संकलन





सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’

बापू, तुम मुर्गी खाते यदि

सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 737  0

मलिक मोहम्मद जायसी

नागमती वियोग खंड 

मलिक मोहम्मद जायसी

शृंगार रस | भक्तिकाल

 1317  0

हरिवंश राय बच्चन

तीर पर कैसे रुकूँ मैं आज लहरों में निमंत्रण!

हरिवंश राय बच्चन

शांत रस | आधुनिक काल

 994  0

भारतेंदु हरिश्चंद्र

गंगा-वर्णन

भारतेंदु हरिश्चंद्र

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 767  0

भूषण

बाने फहराने घहराने घंटा गजन के

भूषण

वीर रस | रीतिकाल

 1088  0

सुब्रह्मण्यम भारती

वन्देमातरम

सुब्रह्मण्यम भारती

वीर रस | आधुनिक काल

 1905  0

नक्श लायलपुरी

ज़हर देता है कोई, कोई दवा देता है

नक्श लायलपुरी

शांत रस | आधुनिक काल

 728  0

वियोगी हरि

व्यर्थ गर्व

वियोगी हरि

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 594  0

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

एक तिनका

अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’

शांत रस | आधुनिक काल

 791  0

रहीम

मोहिबो निछोहिबो सनेह में तो नयो नाहिं

रहीम

शृंगार रस | भक्तिकाल

 827  0

महाकवि बिहारीलाल

पावस रितु बृन्दावनकी

महाकवि बिहारीलाल

शृंगार रस | रीतिकाल

 926  0

पाश

सौगन्ध बापू

पाश

करुण रस | आधुनिक काल

 954  0

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

बदला

प्रभुदयाल श्रीवास्तव

शांत रस | आधुनिक काल

 607  0

पाश

उनके शब्द लहू के होते हैं

पाश

वीर रस | आधुनिक काल

 2073  0

केदारनाथ अग्रवाल

बच्चे के जन्म पर

केदारनाथ अग्रवाल

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 692  0

रहीम

बरवै भक्तिपरक

रहीम

शांत रस | भक्तिकाल

 849  0

गोपाल सिंह नेपाली

मुसकुराती रही कामना

गोपाल सिंह नेपाली

शांत रस | आधुनिक काल

 791  0

गोपालदास ‘नीरज’

अंधियार ढल कर ही रहेगा

गोपालदास ‘नीरज’

वीर रस | आधुनिक काल

 1676  0

कुमार विश्वास

साल मुबारक

कुमार विश्वास

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 711  0

मीराबाई

लोक-लाज तजि नाची

मीराबाई

शृंगार रस | भक्तिकाल

 1138  1

कुँअर बेचैन

सोख न लेना पानी !

कुँअर बेचैन

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 592  0

गोपाल सिंह नेपाली

बदनाम रहे बटमार

गोपाल सिंह नेपाली

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 574  0

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

बहुत दिनों से

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 579  0

प्रभाकर माचवे

कविता क्या है

प्रभाकर माचवे

शांत रस | आधुनिक काल

 664  0

हरिओम पंवार

कहानी कांग्रेस की

हरिओम पंवार

वीर रस | आधुनिक काल

 1520  0

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

मृत्यु और कवि

गजानन माधव 'मुक्तिबोध'

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 588  0

सोम ठाकुर

उलझी हुई रातें मिलीं

सोम ठाकुर

शृंगार रस | आधुनिक काल

 1116  0

पद्माकर

दाहन ते दूनी, तेज तिगुनी त्रिसूल हूं ते

पद्माकर

वीर रस | रीतिकाल

 885  0

मैथिलीशरण गुप्त

निरख सखी ये खंजन आए

मैथिलीशरण गुप्त

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 636  0

त्रिलोचन

दुनिया का सपना 

त्रिलोचन

अद्भुत रस | आधुनिक काल

 634  0




  परिचय

"मातृभाषा", हिंदी भाषा एवं हिंदी साहित्य के प्रचार प्रसार का एक लघु प्रयास है। "फॉर टुमारो ग्रुप ऑफ़ एजुकेशन एंड ट्रेनिंग" द्वारा पोषित "मातृभाषा" वेबसाइट एक अव्यवसायिक वेबसाइट है। "मातृभाषा" प्रतिभासम्पन्न बाल साहित्यकारों के लिए एक खुला मंच है जहां वो अपनी साहित्यिक प्रतिभा को सुलभता से मुखर कर सकते हैं।

  Contact Us
  Registered Office

47/202 Ballupur Chowk, GMS Road
Dehradun Uttarakhand, India - 248001.

Tel : + (91) - 7534072808
Mail : info@maatribhasha.com